नाभि में इन्फेक्शन के कारण, उपाय

जरूरी है सफाई

नाभि की सफाई पर ध्यान न देने से यीस्ट और बैक्टीरियल इन्फेक्शन का खतरा बढ़ जाता है। जानिए, इसके कारण और समस्या से बचने के नेचुरल तरीके।

क्यों होता है इन्फेक्शन?

पियर्सिंग करवाना, नाभि की सफाई न करना, पेट की सर्जरी और मोटापे की वजह से इन्फेक्शन हो सकता है।

नारियल तेल


रोजाना रात को सोने से पहले नारियल का तेल नाभि में लगाएं। ये इन्फेक्शन पैदा करने वाले बैक्टीरिया से लड़ता है।

नमक का पानी

नमक वाला पानी नाभि में लगाकर कुछ देर के लिए छोड़ दें। इससे खुजली और सूजन से राहत मिलेगी।

पिपरमेंट ऑयल

पिपरमेंट ऑयल की दो-तीन बूंदें नाभि में डालें। इसके एंटीसेप्टिक गुण इन्फेक्शन को बढ़ने से रोकते हैं।

वाइट विनेगर

वाइट विनेगर में पानी मिलाकर नाभि में लाएं। नियमित रूप से ऐसा करने से इन्फेक्शन नहीं होगा।

टी ट्री ऑयल

एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर टी ट्री ऑयल इन्फेक्शन बढ़ाने वाले माइक्रोब्स को खत्म कर देता है।

सरसों का तेल

सरसों के तेल को नाभि पर रात भर लगा रहने दें। सुबह साफ पानी से धो लें। इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जो इन्फेक्शन को दूर रखते हैं।

एलोवेरा

एलोवेरा जेल को दिन में 2-3 बार नाभि पर लगाएं। एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होने के कारण ये जलन, सूजन कम करता है

स्टोरी अच्छी लगी हो तो लाइक और शेयर करें। ब्यूटी से रिलेटेड ऐसी अन्य जानकारी के लिए क्लिक करें

Click Here