पैड से पड़ने वाले रैशेज को ऐसे करें ठीक

पीरियड्स के दिनों में लगातार पैड का इस्तेमाल करने से कई बार रैशेज हो जाते हैं, जो काफी दर्दनाक होते हैं। आइए जानें इससे छुटकारा पाने के कुछ टिप्स

खुशबूदार सेनेटरी पैड का इस्तेमाल करने से रैशेज होने की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि इसमें केमिकल की मात्रा ज्यादा होती है, जो त्वचा पर जलन पैदा कर देती है।

खुशबूदार सेनेटरी पैड

कभी भी एक ही पैड को लंबे समय तक इस्तेमाल न करें क्योंकि इससे वजाइनल इंफेक्शन होने की संभावना बढ़ जाती है। हर 3-4 घंटे में पैड बदलना बेहद जरूरी है।

पैड बदलना जरूरी

पीरियड्स के दौरान बहुत ज्यादा चलने-फिरने से या फिर ज्यादा वर्कआउट से भी रैशेज हो जाते हैं। इसलिए पैड समय समय पर बदलें और इनदिनों बॉडी को थोड़ा आराम दें।

आराम करें

वैसे तो रोजाना नहाने के बाद जांघ के आसपास के एरिया को मॉइश्चराइज करना जरूरी है, लेकिन पीरिड्स के दौरान याद से जांघ के किनारे नारियल तेल लगाएं। इससे रैशेज की समस्या नहीं होगी।

नारियल तेल

पेड रेशेज से बचने के लिए आप जांघ के आसपास एरिया को पानी से अच्छे से धोएं और फिर पाउडर लगाएं। इसके लिए एंटीसेप्टिक पाउडर का इस्तेमाल ज्यादा फायदेमंद होगा।

पाउडर लगाएं

पीरियड्स के दौरान गंदगी से खुजली या जलन की समस्या हो सकती है। इससे बचने के लिए वजाइनल एरिया को समय समय पर साफ करती रहें।

हाइजिन का ख्याल रखें

पीरियड्स के दौरान गंदगी से खुजली या जलन की समस्या हो सकती है। इससे बचने के लिए वजाइनल एरिया को समय समय पर साफ करती रहें।

साबुन न लगाएं

पीरियड्स के दौरान खुद का ऐसे रखें ख्याल वेलनेस की अन्य खबरों को जानने के लिए पढ़ती रहें 

Click Here