प्राइवेट पार्ट में इंफेक्शन से यूं बचें

महिलाएं ज्यादा आती हैं चपेट में

स्टडी के मुताबिक, पुरुषों से ज्यादा महिलाएं UTI की चपेट में ज्यादा आती हैं। ऐसे में उन्हें इससे बचने के लिए कुछ चीजों का ख्याल रखना बेहद जरूरी है।

सफाई

प्राइवेट पार्ट को अच्छे से वॉश एंड वाइप करें। इसे सूखा रखें, ताकि वहां बैक्टीरिया न पनप सकें।

पानी पीएं

दिनभर में भरपूर पानी पीएं। इससे यूरिन के जरिए बैक्टीरिया को फ्लश आउट करने में मदद मिलती है।

संबंध बनाने के बाद

संबंध बनाने के बाद बाथरूम जाएं, ताकि अगर यूटीआई को जन्म देने वाला कोई बैक्टीरिया हो तो वो फ्लश हो जाए।

हाइजीन

अपने साथ ही साथी को भी प्राइवेट पार्ट से संबंधित हाइजीन पर ध्यान देने पर जोर दें।

प्रॉडक्ट्स

ऐसे प्रॉडक्ट का चुनाव न करें, जो सेंसेटिव प्राइवेट पार्ट को इरिटेट करे, नहीं तो वहां इंफेक्शन हो सकता है।

क्लीन अंडरगार्मेंट

क्लीन अंडरगार्मेंट्स ही पहनें। अगर पसीना ज्यादा आता है, तो प्राइवेट पार्ट को क्लीन करने के साथ ही अंडरगार्मेंट भी चेंज जरूर करें।

पब्लिक टॉयलेट को लेकर सावधानी

पब्लिक टॉयलेट्स को सावधानी से यूज करें, क्योंकि यहां से सबसे ज्यादा यूटीआई होने की आशंका रहती है। साथ में सैनेटाइजर स्प्रे कैरी करें और बैठने से पहले सीट पर इसे यूज करें।