बादाम छिलके सहित क्यों नहीं खाने चाहिए?

आपने बहुत बार लोगों को कहते सुना होगा कि बादाम को छिलके सहित नहीं खाना चाहिए। आइए जानते हैं बादाम के छिलकों में ऐसा क्या होता है, जो नुकसानदायक माना जाता है।

बादाम के छिलकों में टैनिन नामक कंपाउंड होता है, जो शरीर को इसके पोषक तत्व अवशोषित करने से रोकता है। इसलिए ही कहा जाता है कि कच्चे बादाम को छिलके सहित नहीं खाना चाहिए।

अगर आप बादाम को छिलके सहित खाते हैं, तो इससे आपको बादाम के सभी पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं इसलिए इसे छीलकर खाना ही ज्यादा फायदेमंद है।

सूखे बादाम खाने से कई बार शरीर में पित्त का असंतुलन बढ़ जाता है। इस कारण से आयुर्वेद भी बादाम को छिलकों सहित न खाने की सलाह देता है।

कैसे खाना चाहिए बादाम

बादाम को रात में पानी में भिगोकर रख दें। इसके बाद सुबह इस बादाम के छिलकों को छीलकर खाली पेट खाना चाहिए। इससे बादाम की गर्मी कम हो जाती है।

रोस्ट करके भी खा सकते हैं बादाम

बादाम को कच्चा खाने के बजाय अगर आप इसे रोस्ट करके खाते हैं, तो इसके छिलकों में मौजूद टैनिन का प्रभाव कम होता है। लेकिन ध्यान रखें इसमें नमक न मिलाएं।

एक दिन में कितने बादाम खाएं?


कैलिफोर्निया बोर्ड ऑफ अल्मंड्स के अनुसार आप एक दिन में 23 बादाम तक खा सकते हैं। लेकिन ज्यादातर डायटीशियन आपको दिन में 6-7 बादाम ही खाने की सलाह देते हैं।

इसलिए आपको छिलके के साथ नहीं, बल्कि छीलकर या रोस्ट करके बादाम खाने चाहिए। स्वस्थ से जुड़ी और जानकारियों के लिए पढ़ते रहे 

Click Here